Indizel – byMy Eco Energy


Indizel – byMy Eco Energy set to lead India towards Energy Independence

India Gears up for a Revolutionary Change in the fuel Industry

 Mr. Sachin Labde, Mr. Hrishikesh Kulkarni and Mr. Santosh Verma, My Eco Energy Scale Model of Indizel Station

 

Mumbai–August 12, 2014: At the outset, we at My Eco Energy would like to wish the nation a very happy Independence Day.  The Nation will be celebrating the 68th Independence Day in three day time and it’s time to celebrate. Meanwhile, we also need to look into the problems. One such problem that we are facing today is availability of petro-diesel.  Though as a nation we are importing oil at a humongous rate still there is a lag between demand and supply. A closer look into this sector and what we came across was mind boggling. In March 2014, we in India consumedaround 24.5 crorelitre diesel in a single day as published on the Petroleum Planning and Analysis Cell (ppac.org.in). A monthly figure would stand at approximately 760 crore litre and if you dare go to the annual figure then you reach at a staggering number of around 8000 crore litre per year as per the report. A further look into the sector enlightened us with the fact that India is the fourth largest consumer and importer of crude oil of which diesel accounts for almost 44% alone. A look at the population of India will lead you to the figures which states that India represents almost 17.31% of the world’s population, which means one out of six people on this planet live in India.Experts predict that by the year 2020, there will be 450 million vehicles plying on Indian roads. This means that our demand for diesel would increase further. Therefore, Therefore, We need solutions to make fuel more sustainable, accessible ,affordable  and compatible in the existing infrastructure

 

What’s the Solution?

 

Now imagine a solution that is available now because of its unique quality that requires no new infrastructure, reduces CO2 emissions by 90%, can be made from wide range of feed stocks and produce higher quality diesel that allows vehicles to run on 100% renewable fuel.

 

MEET INDIZEL- 100% Renewable Fuel from My Eco Energy

 

In line with our Commitment to make India Energy Independent, My Eco Energy (MEE) has developed renewable diesel like no other. We will launch first Indizelfuel station in Lonikand, Pune on 14th August 2014. The fuel station will be inaugurated by Social activist Anna Hazare. The construction of this fuel station is part of our efforts aimed at providing energy solutions that are efficient and environmentally friendly.At a time when governments around the world battle with ways of meeting their energy needs, My Eco Energy believes that this initiative will add immense value to the Indian Government’s effort.  We at My Eco Energy also believe that with such an innovation, the cost of doing business will be reduced and this would lead to further investments for economic growth and development. Indizel’– Bio Diesel from MEE’s Lonikand pump will cater to people in Mumbai, Pune and Nashik.

 

 

What is Indizel?

 

Indizel existence came into being as we were looking to bringin something which was a complete alternative to petroleum diesel. We therefore had a clear understanding that any product replacing fossil fuel had to be at-least good or even better.‘Indizel’therefore is a clean burning bio-fuelfrom My Eco Energy, which is a complete alternative to conventional petrol-diesel. We were also aware that the next renewable fuel has to use the existing infrastructure and Indizelfits the bill perfectly as it is suitable for all diesel engines which can use existing tanks and pumps. It is seamlessly interchangeable with petroleum diesel without any engine modificationsandthere are no limitations on blending unlike the other bio-fuels.It can be used to power various commercial diesel vehicular mediums like cars, buses, trucks, trains, bulldozers, ships and agricultural tractors along with other machinery like electricity generators, industrial boilers & furnaces.

 

Why ‘Indizel’

 

Unique Retail Model:

Our all-encompassing approach ensures that India will benefit in many ways as we open up business opportunities across various levels of economic classes. Thoughtfully crafted business modelsmake sure that Indizel retailers reap benefits on a continual basis. With a deep understanding of changing consumer needs and bearing in mind the ever evolving market trends, My Eco Energy has arrived at different models to reach the consumer in the most convenient fashion.A complete installation package for a small cost will get our partners up and running with their own Indizel business. From a fuel station to a kiosk to even an Indizel outlet where any business owner who plans to retail Indizel by adding to his existing SKU’s within his existing retail infrastructure can benefit. With a small space to spare and a minimum capital investment he can reap profits from retailing Indizel. Depending on the capital investment and the space, the retailer can choose the size of the tank he wishes to install along with a mounted pump.

 

Economic Benefits:

 

  1. India is the fourth largest importer as well as the consumer of oil and petroleum products in the world after China, United States and Russia.Diesel remains the most-consumed oil product, accounting for 44% of petroleum product consumption in 2013. Meanwhile, the gap between India’s oil demand and supply is widening. In addition, crude oil reservesare depleting at the rate of 4 billion tons a year. At this rate oil deposits will be gone by 2052 according to reports. Under these circumstances Indizel offers a great alternative and that too at an economical cost

 

  1. Indizel– biodiesel from My Eco Energydoes not take any subsidies from the Government, thus saving the taxpayer’s money. In addition the manufacturing, retailing and distribution takes place in the Country itself therefore it reduces the import bill, also leading to a reduction in the trade deficit.

 

  1. Creates Employment: Since biofuels are produced locally, biofuel manufacturing plants can employ hundreds or thousands of workers, creating new jobs in rural areas. Biofuel production will also increase the demand for suitable biofuel crops, providing economic stimulation to the agriculture industry. In addition, biofuel can be used in the existing infrastructure therefore it helps the inactive fuel station to come back in action, also our unique retail model helps create business opportunities among people belonging to all economic classes.

 

 

Environmental Benefits:-

 

  1. According to the WHO Report 2012, Delhi is the most polluted city in the world. Not only this, 15 cities in India are among the most polluted in the world. Indizelis less toxic than table salt and more biodegradable than sugar. Indizelusage will help in a substantialreduction of carbon monoxide, unburned hydrocarbons and particulate matter. A U.S. Department of Energy study showed that the production and use of biodiesel resulted in a 78.5% reduction in carbon dioxide emissions compared to petroleum diesel. Therefore,Indizelcan ultimately contribute to counteracting the increased levels of carbon dioxide, particulate matters, hydrocarbons, sulphur oxides, nitrogen oxides, carbon monoxide and air toxics trapped in the atmosphere as a result of long-term burning of fossil fuels.

 

  1. Additionally, biodiesel has a positive energy balance. For every unit of energy needed to produce a gallon of biodiesel 4.5 units of energy are gained.

 

Vehicle Benefits:

 

  1. Indizelyields a high level of combustion quality during compression ignition which is measured by the cetane number. It has a higher cetane number than petroleum diesel fuel. Better combustion ensures better mileage and more power.
  2. Indizel has higher lubricating properties which increases engine life
  3. Indizel is seamlessly interchangeable with petroleum diesel and doesn’t require any engine modifications.

 

  1. Indizel is intended to be used as a replacement for petroleum diesel and can be blended with petroleum diesel fuel in any proportion.

 

इन्डिजेल-माय इको एनर्जी की पेशकश, जो ईंधन आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में भारत का नेतृत्व करेगा

भारत ईंधन उद्योग में एक क्रांतिकारी परिवर्तन के लिए सज्ज

 

मुंबई, 12 अगस्त 2014: भारत को उर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने की अपनी प्रतिबद्धता के साथ माय इको एनर्जी ने बेजोड़ अक्षय डीजल को विकसित किया गया है। 14 अगस्त 2014 को पुणे के नजदीक लोणीकांड में अपने पहले इन्डिजेल ईंधन स्टेशन का शुभांरभ किया जा रहा है। सामाजिक कार्यकर्ता अण्णा हजारे के हाथों इस ईंधन स्टेशन का उद्घाटन होगा। इसकी घोषणा आज मुंबई के पत्रकार परिषद में की गयी।

 

सक्षम और पर्यावरण के अनुकूल उर्जा का समाधान उपलब्ध कराने के लक्ष्य के हमारे प्रयास को ध्यान में रख कर इस ईंधन स्टेशन का निर्माण किया गया है। जब दुनियाभर की सरकारें अपनी उर्जा की जरुरतों को पूरा करने के लिए एक दूसरे भिड़ी हुई हैं, तो ऐसे में माय इको एनर्जी को पूरा विश्वास है कि इस पहल से भारतीय सरकार के प्रयासों को जबरदस्त मजबूती हासिल होगी। माय इको एनर्जी को विश्वास है कि इस तरह की नवीनता के साथ व्यापार करने की लागत में कमी आएगी जिससे कि आर्थिक वृद्धि और विकास के लिए निवेश में बढ़ोत्तरी होगी। माय इको एनर्जी की पेशकश बायो डीजल-इन्डिजेल के पंप से मुंबई, पुणे और नाशिक के लोग अपने वाहनों में तेल भरवा सकते हैं।

 

जब हम पेट्रोलियम डीजल के लिए पूर्ण विकल्प के रुप में कुछ तलाश रहे थे, इन्डिजेल का अस्तित्व उसकी ही देन है। हमारे पास इस विषय के बारे में स्पष्ट समझ थी कि खनिज तेल का विकल्प कम से कम इससे अच्छा हो या फिर बेहतर हो। माय इको एनर्जी का स्वच्छ जल जैव ईंधन ‘इन्डिजेल’ पारंपरिक पेट्रोल डीजल के लिए पूरी तरह से विकल्प है। हम यह बात भी मानकर चल रहे थे कि अगला नवीनीकरण ईंधन मौजूदा बुनियादी ढांचे का उपयोग करने के लिए होना चाहिए और इन्डिजेल इसमें एकदम फिट बैठता है क्योंकि यह सभी डीजल इंजनों के लिए उपयुक्त है जिसके लिए मौजूदा टंकी और पंप का उपयोग किया जा सकता है। इंजन में बिना कोई बदलाव किए यह पूरी तरह से पेट्रोल डीजल के साथ अन्तनिर्मेय है, जबकि दूसरे जैव ईंधन ठीक इसके विपरीत हैं और उनकी सीमाएं हैं। इसका कारों, बसों ट्रकों, ट्रेनों, बुलडोजरों, जहाजों और कृषि में उपयोग आने वाले ट्रैक्टरों जैसे वाणिज्यिक डीजल वाहनों को चलाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, इसके अलावा बिजली जनरेटर, औद्योगिक बॉयलर और भट्टियों को भी यह शक्ति प्रदान करने के लिए सक्षम है।

 

हमारे द्वारा अपनाए गए सभी दृष्टिकोणों से यह सुनिश्चित करते हैं कि इससे भारत का कई मायनों में फायदा होगा, क्योंकि हम आर्थिक वर्गों के विभिन्न स्तरों पर व्यापारिक अवसरों के द्वार खोलने जा रहे हैं। पूरी तैयारी के साथ शुरु किया गए व्यापार मॉडल से यह निश्चित है कि इन्डिजेल खुदरा विक्रेताओं के लिए नियमित रुप से लाभ पहुंचाएगा। उपभोक्ताओं के बदलते हुए रुझान की गहरी समझ के साथ-साथ बदलते हुए बाजार के रुख को ध्यान में रख कर माय इको एनर्जी उपभोक्ताओं तक पैठ बनाने हेतु सबसे सुविधाजनक फैशन के साथ विभिन्न मॉडलों को लेकर आया है। कम कीमत पर पूर्ण प्रतिष्ठापन पैकेज हमारे भागीदारों को बेहतर स्थित प्रदान करता है तथा उनको स्वंय का इन्डिजेल व्यापार चलाने के लिए उत्साहित करता है। अगर कोई व्यापारी अपने मौजूदा खुदरा बुनियादी ढांचे के अंदर एसकेयू को जोड़कर इन्डिजेल के साथ खुदरा व्यापार करने की योजना बना रहा है तो उसको भी फायदा हो सकता है। कोई भी व्यापारी एक छोटी सी जगह के साथ और न्यूनतम पूंजी को निवेश करके इन्डिजेल के खुदरा विक्री से लाभान्वित हो सकता है। पूंजी निवेश और उपलब्ध जगह के अनुसार खुदरा व्यापारी पंप के साथ स्थापित अपनी पसंद के आकार की टंकी के चयन की सुविधा उसके मिली हुई है।

 

 

भारत दुनिया का चौथे नंबर का तेल आयात करने वाला देश है और साथ ही साथ चीन, अमरीका और रुस के बाद भारत में सबसे ज्यादा तेल और पेट्रोलियम उत्पादनों की खपत होती है। डीजल सबसे ज्यादा खपत वाला तेल उत्पादन है, 2013 में सभी तेल खपत में से 44 फीसदी की हिस्सेदारी डीजल की थी। इसी बीच भारत के तेल की मांग और आपूर्ति के बीच खाई और चौड़ी होती जा रही है। इसके अलावा कच्चे तेल के भंडार चार अरब टन की दर से प्रत्येक वर्ष घटते जा रहे हैं। इसलिए इन परिस्थितियों में इन्डिजेल किफायती दरों पर एक बेहतर विकल्प है।

 

माय इको एनर्जी का जैव ईंधन-इन्डिजेल को सरकार की ओर से किसी भी प्रकार की सब्सिडी नहीं मिलती है, इस प्रकार करदाताओं के पैस की बचत भी होती है। इसके अलावा निर्माण, खुदरा विक्री और वितरण देश में ही होता है, इसके फलस्वरुप आयात बिल में कमी होती है जिससे कि व्यापार घाटा कम हो जाता है।

 

जैव ईंधन का उत्पादन स्थानीय स्तर पर किया जाता है, जैव ईंधन संयत्र के लिए हजारो कामगारों की जरुरत पड़ती है, जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्र में एक बड़ी संख्या में नौकरियों का सृजन होगा। जैव ईंधन के उत्पादन के लिए उपयुक्त फसल की मांग बढ़ेगी, जिससे कृषि उद्योग के क्षेत्र में आर्थिक उछाल आएगा। इससे बढ़कर जैव ईंधन का मौजूदा बुनियादी ढांचे में इस्तेमाल किया जा सकता है, जिसके निष्क्रिय पड़े ईंधन स्टेशनों को दोबारा शुरु करने के लिए मदद होगी, तथा हमारे द्वारा आरंभ किए गए अद्वितीय खुदरा मॉडल से सभी आर्थिक वर्गों से संबंधित लोगों के बीच व्यापार के अवसर पैदा होंगे।  

 

इन्डिजेल टेबल नमक से भी कम विषाक्त है और चीनी की तुलना में अधिक प्राकृतिक रुप से सड़नशील है। इन्डिजेल के उपयोग से कॉर्बन मोनोऑक्साईड, नही जला हुआ हाइड्रोकॉर्बन और विविक्त कणों को घटाने में मदद मिलती है। इन सबसे बढ़कर बायोडीजल एक सकारत्मक उर्जा संतुलन है। एक गैलन बायो-डीजल बनाने के लिए एनर्जी के जितनी इकाई की जरुरत होती है, उससे हमको प्रत्येक इकाइ के बदले 4.5 इकाई एनर्जी प्राप्त होती है।

 

इन्डिजेल में सिटेन संख्या से मापे जाने वाले उच्च स्तरीय दहन क्षमता मौजूद है। इसे पेट्रोलियन डीजल की तुलना में अधिक सिटेन संख्या हासिल है। बेहतर दहन क्षमता होने के कारण इन्डिजेल से ज्यादा माईलेज के साथ-साथ ज्यादा शक्ति प्राप्त होती है। इन्डिजेल में उच्च दर्जे का लुब्रिकेटिंग मौजूद है जिसके कारण इंजन की आयु में बढ़ोत्तरी होती है। इन्डिजेल पेट्रोलियम डीजल के साथ मूल विनिमेय है और इसके इस्तेमाल के लिए किसी भी तरह के इंजन में संशोधन की जरुरत नही होती है। इन्डिजेल का पेट्रोलियम डीजल के विकल्प के रुप में इस्तेमाल करने का इरादा है और साथ-साथ इसे किसी भी अनुपात में पेट्रोलियम ईंधन के साथ मिश्रित किया जा सकता है।

 

इन्डिजेल के लांचिन्ग की घोषणा करते हुए माय इको एनर्जी के निदेशक श्री संतोष वर्मा ने कहा कि यह प्रत्येक देश की आवश्यकता है और समान रुप से सभी देशों पर लागू है। निकट भविष्य में पूरे महाराष्ट्र में बायो-डीजल के खुदरा विक्रेताओं और वितरकों के नेटवर्क के विस्तार की हमने योजना बनाई है। पूरे महाराष्ट्र में बायो-डीजल से युक्त ईंधन पंप की स्थापना के बाद हमने ग्रामीण भारत को सशक्त बनाने के लिए देश भर में नेटवर्क के विस्तार करने की योजना तैयार कर रखी है। माय इको एनर्जी द्वारा पेश बायो-डीजल में ज्यादातर स्थानीय स्तर पर इस्तेमाल हुए खाद्य तेल के उत्पादनों का उपयोग किया जाता है तथा यह प्राकृतिक तरीके से सड़नशील और गैर विषैला है।  

 

 

और अधिक जानकारी के लिए

कृपया हमारी वेबसाइट http://www.myecoenergy.in/ पर संबंध स्थापित करें –

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s